जनपदः संत कबीर नगर- एक दृश्टि में-

जिला शिक्षा एवं प्रषिक्षण संस्थान, संत कबीर नगर पूर्वी उत्तर प्रदेष का एक नव निर्मित जनपद है, जो बस्ती मण्डल में स्थित है, संत कबीर नगर की स्थापना 1997 ई0 में हुई, इस जनपद में संत कबीर नगर की निर्वाण स्थली होनें के कारण इसका नाम संत कबीर नगर रखा गया, इस जनपद का मुख्यालय खलीलाबाद में है। जो राश्ट्रीय राजमार्ग सं0 28 (लखनऊ मोकामा घाट रोड) के 231 वें कि0मी0 पूरब में स्थित है।. नव निर्मित जिला होने के कारण जिला षिक्षा एवं प्रषिक्षण संस्थान 2005 में, पूर्व में स्थित उ0प्रा0वि0 के प्रांगण में बनाया गया, जो रेलवे स्टेषन के उत्तर 01 कि0मी0 एवं बस स्टेषन से 04 कि0मी0 दक्षिण पर स्थित है। 26 अंष-23 अंष तथा 27 से 30 अंष उत्तरी देषान्तर के मध्य एवं 82 अंष से 17 अंष तथा 83 से 20 अंष पूर्वी देषान्तर पर स्थित है।

समुद्र तल से उचाई-1800 मी0

स्थापना दिवस-1997

क्षेत्र फल 1442.3 वर्ग कि0मी0

ऐतिहासिक पृश्ठ भूमि-

जनपद मुख्यालय से 09 कि0मी0 पूरब दिषा में मगहर के समीप आमी नदी के तट पर प्रसिद्व सूफी संत हिन्दू और मुस्लिम धर्म में समन्वय स्थापित करने वाले संत कबीर दास की निर्वाण स्थली है। दिनांक-16.02.2003 को तत्कालीन मा0 मुख्य मंत्री महोदया ने खलीलाबाद जिला मुख्यालय का षिलान्यास कर संत कबीर दास के नाम से जनपद संत कबीर नगर की स्थापना की। पूर्व में जिला प्राथमिक षिक्षा कार्यक्रम डी0पी0ई0पी0 की कार्य योजना पूर्व जनपद बस्ती के साथ स्वीकृत थी। परन्तु सर्व षिक्षा अभियान में जनपद संत कबीर नगर की कार्य योजना पृृथक की गयी इसका उद्देष्य षिक्षा की पहुंच का विस्तार, ठहराव, गुणवत्ता में वृद्वि तथा क्षमता सम्बर्द्धन में विकास करना रखा गया था। जिसका लाभ जनपद के षैक्षिक विकास में प्राप्त हो रहा है। इस कार्य में गति लाने के उद्देष्य से सर्व षिक्षा अभियान का षुभारम्भ इस जनपद में हो चुका है।

More »